एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी : true love story in Hindi


एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी : true love story in Hindi
एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी : true love story in Hindi



हेलो दोस्तों मेरा नाम दिशा है आज मैं Short story in hindi पर अपने दिल की बात बताने वाली हूं जब मैं 10th क्लास में पढ़ती थी तो मुझे एक शर्मिला लड़का अच्छा लगने लगा था जिसे मैं पसंद करने लगी थी क्या हुआ   
एक शर्मिला लड़का अपनी मम्मी के साथ मेरे घर पर किसी काम से आया था मैं उस वक्त न्यूज़ पेपर पढ़ रही थी  मुझे वह लड़का प्यारी सी नजरों से देख रहा था पहले तो मैंने कुछ ध्यान नहीं दिया और लड़का बार-बार पलट पलट कर मुझे देख कर चला गया जब में स्कूल जाती थी स्कूटी से तभी रास्ते में उस लड़के का घर भी पढ़ता था 
जब भी मैं स्कूल जाती तो वह लड़का मुझे छिप छिप देखा करता था पहले तो कुछ दिन तक तो मैंने ध्यान नहीं दिया फिर पता नहीं क्यों मेरी निगाहें भी उस लड़के को देखने लगी और फिर मुझे भी उसका छिप छिप कर देखना मुझे अच्छा लगने लगा एक दिन जब में कोचिंग जा रही थी तभी वो लड़का अचानक से मेरे पास आ गया 

true love story in Hindi
लेकिन वो कुछ मुझसे बोल ही नहीं पा रहा था उसे इतना डर लग रहा था की उसके मुँह से एक शब्द भी नहीं निकल पा रहे थे फिर मैने कहा तुम वही हो न जो उस दिन मेरे घर पर आये थे उसने सिर हिलाया और फिर तुरन्त ही नौ दो ग्यारह हो गया मैंने मन ही मन सोचा के ये लड़का भी ना कितना डरता है मुझे से बात करने में  उस दिन के बाद तो कुछ दिन तक उसने अपनी शक्ल भी नहीं दिखाई मुझे शायद उसको शर्म लग गई हो

true love story in Hindi
क्योकि वो बड़ा ही शर्मिला टाईप का लड़का था उसके कुछ दिन बाद वो किसी का कार्ड देने घर पर आया उसने आवाज़ लगाई आंटी जी आप के लिए किसी का कार्ड आया है तभी में बाहर निकली उसने मुझे कार्ड दिया और फिर कहा i am sorry उस दिन के लिए  मैंने कहा कोई बात नहीं वो लड़का पहली बार मुझसे कुछ बोल रहा था उसका वह चेहरा आंखों को बहुत ही अच्छा लगा 
मैं तो सारा दिन उसी के खयालों में खोई रही अगले दिन जब मैं स्कूल को जा रही थी तभी वह मेरे पास आया और बोला क्या मैं आप से थोड़ी बात कर सकता हूं और बोला तुम बहुत खूबसूरत हो और मैंने कहा और क्या बोला कुछ नहीं फिर इतना ही कहकर चला गया  वह  बड़ा अजीब लड़का था वह बोलता कम और छिप छिप कर ज्यादा देखता था 

true love story in Hindi
मैं उसकी बातों को सुनने के लिए बेताब रहती थी और वह है की कभी बात ही नहीं करता था  मैंने सोचा ऐसी तो कुछ ये कहेगा ही नहीं मुझे ही इससे बात करनी पड़ेगी एक दिन मैं अपनी स्कूटी की सारी हवा निकाल दी और उसे सड़क किनारे खड़ा करके देख ने लगी वो लड़का मेरे पास आया और बोला क्या हुआ मैंने कहा पता नहीं इसकी हवा निकल गई वो बोला कोई बात नहीं आगे   Repairing  की दुकान है वहा ठीक हो जाएगी तो वह गाड़ी लेकर चलने लगा मैं यही तो चाहती थी फिर में उसके साथ बाते करते चलने लगी उसने अपना नाम मुझे अजय बताया 

true love story in Hindi
मैंने कहा अजय क्या तुम मेरे दोस्त बनोगे वो  एकदम से बोला क्यों नहीं तुम इतनी अच्छी हो की आप का दोस्त कौन नहीं बनना चाहेगा फिर क्या था वो भी मुझसे बिना डरे बातें करने लगा उसके साथ बात करके मुझे बहुत अच्छा लगा था दिल तो बस यही सोचता था कि कब मौका मिले उससे बात करने का उसका वह सीधापन मेरे दिल में बस गया मैं तो बस उसी के बारे में सोचने लगी थी सारा दिन उसी को याद करते करते बीतने लगे शायद मै उसे अपना दिल दे बैठी थी  

दोस्तों, ये कहानी आपको कैसी लगी, हमें कमेंट में ज़रूर बतायेगा  


इनको भी पढ़े 

ये जीवन प्यार बिना अधूरा है best love story in hindi


एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी : true love story in Hindi एक शर्मिला लड़का जिसे में दिल दे बैठी : true love story in Hindi Reviewed by Sweet stories on November 14, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.